कोविड काल में युवा चिकित्सकों के लिए नजीर हैं डॉ. शशांक शेखर सिंह

■ फातिमा अस्पताल के रेजिडेंट मेडिकल आफिसर डॉ. शशांक शेखर सिंह, मऊ के वरिष्ठ पत्रकार एवं अधिवक्ता प्रदीप सिंह के इकलौते पुत्र हैं

( चन्द्रशेखर श्रीवास्तव )
मऊ । जिले के वरिष्ठ पत्रकार एवं अधिवक्ता प्रदीप सिंह के इकलौते पुत्र व फातिमा अस्पताल के युवा चिकित्सक (रेजिडेंट मेडिकल ऑफिसर) डॉ. शशांक शेखर सिंह ने वर्तमान समय में वैश्विक महामारी कोरोना के खिलाड़ छिड़े जंग में 100 बेड के कोविड फातिमा अस्पताल में बढ़चढ़कर अपने चिकित्सकीय दायित्वों का निर्वहन करने में जुटे हुए हैं। एक तरफ जहां अधिकतर चिकित्सक कोरोना की भयावहता को देखते हुए कोविड मरीजों का चिकित्सकी परीक्षण करने से अपने हाथ खड़े कर लिए हैं, वहीं इस विपरित परिस्थिति में फातिमा अस्पताल के युवा चिकित्सक डॉ. शशांक शेखर सिंह फातिमा कोविड अस्पताल में आने वाले सभी मरीजों का चिकित्सकीय परीक्षण का बीड़ा उठाकर अन्य चिकित्सकों के लिए नजीर बने हुए हैं। बताते चलें कि फातिमा अस्पताल के युवा चिकित्सक डॉ. शशांक शेखर सिंह शुरु से ही पठन-पाठन में काफी होशियार रहे हैं। फातिमा अस्पताल के युवा रेजिडेंट मेडिकल ऑफिसर डॉ शशांक शेखर सिंह ने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा अपने गृह जनपद मऊ से ही ग्रहण किया है। डॉ. शशांक शेखर सिंह ने वर्ष 2009 में केन्द्रीय विद्यालय से हाईस्कूल की परीक्षा उत्तीर्ण किया। वहीं वर्ष 2012 में श्यामा प्रसाद मुखर्जी कालेज से इण्टरमीडिएट की परीक्षा उत्तीर्ण। इसके उपरांत इन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा और आंखों में चिकित्सक बनने का सपना संजोते हुए बेंग्लोर स्थित राजीव गांधी विश्वविद्यालय में बीएएमएस की पढ़ाई करने चले गए।

बेंग्लोर स्थित राजीव गांधी विश्वविद्यालय से वर्ष 2012 से वर्ष 2017 तक बीएएमएस की पढ़ाई पूरी करने के बाद युवा चिकित्सक डॉ. शशांक शेखर सिंह अपने गृह जनपद मऊ आकर लोगों को चिकित्सकीय सेवा देना शुरु कर दिए। इस क्रम में युवा चिकित्सक ने वर्ष 2019 में लोगों की सेवा में तत्पर प्रसिद्ध हास्पिटल फातिमा अस्पताल में रेजिडेंट मेडिकल ऑफिसर के रुप में अपनी सेवा करना शुरु कर दिए। आज जब अधिकतर चिकित्सक कोरोना की भयावहता को देखते हुए अपने दायित्वों से पीछे मुंह मोड़ ले रहे हैं, ऐसी विपरित परिस्थिति में जिले के वरिष्ठ पत्रकार एवं अधिवक्ता प्रदीप सिंह के इकलौते पुत्र डॉ. शशांक शेखर सिंह अपनी चिकित्सकीय सेवा के बल पर लोगों के लिए नजीर साबित हो रहे हैं। फातिमा अस्पताल के रेजिडेंट मेडिकल ऑफिसर डॉ. शशांक शेखर सिंह द्वारा निष्ठा व ईमानदारी के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन करने पर पत्रकारों, चिकित्सकों, वरिष्ठ आईएएस, आईपीएस अधिकारियों ने प्रसन्नता का इजहार करते हुए डॉ. शशांक शेखर सिंह के उज्जवल भविष्य की कामना किया है। प्रसन्नता का इजहार करने वालों में वरिष्ठ आईएएस नेहा प्रकाश, गवर्नर रोटरी क्लब केके श्रीवास्तव, राष्ट्रीय सहारा हिंदी दैनिक एवं टीवी चैनल यूनिट हेड वीएन चतुर्वेदी, राष्ट्रीय सहारा हिंदी दैनिक के विज्ञापन प्रबंधक ओपी सिंह, एडीजी जय नारायण सिंह, आईजी ओंकार सिंह, डीआईजी दिनेश चंद दुबे, मंडलायुक्त कुमुदलता श्रीवास्तव, आईजी वाराणसी एसके भगत, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह, आईएमए के पूर्व अध्यक्ष डॉ. एसएन सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. सतीश चंद्र सिंह, ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर वाराणसी परिक्षेत्र अनिल कुमार सिंह, डीआईजी त्रिभुवन सिंह, रोटरी क्लब के गर्वनर केके श्रीवास्तव, राष्ट्रीय सहारा हिन्दी दैनिक एवं टीवी चैनल यूनिट हेड वीएन चतुर्वेदी, राष्ट्रीय सहारा हिन्दी दैनिक के विज्ञापन प्रबंधक ओपी सिंह, ट्रांसपोर्ट कमिश्नर रायपुर श्वेता श्रीवास्तव, प्रौद्योगिकी सचिव एवं पूर्व जिलाधिकारी ऋषिरेन्द्र कुमार आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

IPL-2020 UPDATE NEWS

कौन बनेगा IPL-2020 का किंग ?