मऊ में नोडल अधिकारी मुकेश मेश्राम ने कहा! 15 से 18 आयु वर्ग के बच्चों को अधिक से अधिक टीकाकरण कराया जाए

मऊ। जनपद के नोडल अधिकारी व उत्तर प्रदेश शासन के पर्यटन एवं संस्कृति विभाग के प्रमुख सचिव मुकेश कुमार मेश्राम की अध्यक्षता में विकास भवन में स्थित एकीकृत कोविड-19 कमांड सेंटर मे एम0ओ0आई0सी0, आई0सी0डी0एस0, जिला विद्यालय निरीक्षक एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी के साथ कोविड-19 टीकाकरण, बचाव एवं उसके रोकथाम के संबंध में बैठक संपन्न हुई। बैठक में नोडल अधिकारी श्री मेश्राम द्वारा जिला विद्यालय निरीक्षक एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि ज्यादा से ज्यादा विद्यालयों को कवर करें जिससे 15 से 18 आयु वर्ग के बच्चों को अधिक से अधिक टीकाकरण कराया जा सके साथ ही छूटे हुए बच्चों को प्रधानाचार्य के माध्यम से अभिभावकों के व्हाट्सएप ग्रुप एवं फोन से संपर्क कर उनका भी टीकाकरण कराए जाने के लिए निर्देश दिया गया। आई0सी0डी0एस0 को निर्देश दिए गए कि सी0डी0पी0ओ0 का सहयोग लेकर आंगनवाडियो को निर्देशित करें कि जिन गांव में 80 प्रतिशत से कम टीकाकरण हुआ है उनकी सूची तैयार करें और कोविड-19 सेंटर मे तत्काल सूचना दें। युवा कल्याण अधिकारी को निर्देश दिए गए कि गांव में महिला एवं पुरुष नव युवक मंगल दल दोनों को सक्रिय कर टीकाकरण में सहयोग लेकर टीकाकरण कराये यदि कहीं टीकाकरण कराने के दौरान लोगों में उदासीनता दिखे तो एम0ओ0आई0सी0, खंड विकास अधिकारी एवं अन्य उच्चाधिकारी मौके पर पहुंचकर लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करेंगे। उन्होंने एम0ओ0आई0सी0 को निर्देश दिए कि आप सभी को आगे बढ़कर नेतृत्व लेना होगा जिन गांव में टीकाकरण का प्रतिशत कम है उन गांव में जाकर खुद लोगों को प्रोत्साहित कर टीकाकरण करवाना होगा। उन्होंने कहा कि एम0ओ0आई0सी0 प्रतिदिन अपने द्वारा किए गए गांव के भ्रमण एवं निगरानी समितियों द्वारा किए जा रहे टीकाकरण की सूचना एकीकृत कोविड-19 सेंटर को अनिवार्य रूप से दे। नोडल अधिकारी द्वारा बताया गया कि यदि जरूरत पड़े तो गांव में चौकीदार के माध्यम से मुनादी कराकर लोगों को आस पास होने वाले टीकाकरण की जानकारी दे एवं निगरानी समिति, ग्राम प्रधान एवं ग्राम पंचायत अधिकारी को भी सक्रिय करने के निर्देश दिए। मऊ शहर स्थित 42 वार्डों में टीकाकरण की स्थिति खराब होने के कारण चिंता व्यक्त की और कहां की मोहल्ला समिति की बैठक कराने के दौरान जिलाधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी को बुलाएं जिससे स्थानीय लोगों को टीकाकरण के प्रति प्रेरित किया जा सके साथ ही अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, नगर मजिस्ट्रेट, अपर जिलाधिकारी, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका आदि को लेकर विभिन्न वार्डो में टीकाकरण हेतु कैंप लगाने के निर्देश दिए गए। नोडल अधिकारी द्वारा होम आइसोलेशन के मरीजों से फोन कर हाल-चाल ली गई साथ ही मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए गए कि आशा गांव-गांव में जागरूक करने वाले पोस्टर लगाएं।
जिलाधिकारी अरुण कुमार द्वारा एम0ओ0आई0सी0 से ब्लॉकवार टीकाकरण की जानकारी ली गई तथा एम0ओ0आई0सी0 से गांव में भ्रमण कर लोगों को टीकाकरण हेतु प्रोत्साहित करने को कहा गया। सबसे कम टीकाकरण वाले गांव की सूची तैयार कर उन गांव में टीकाकरण का प्रतिशत बढ़ाने हेतु निर्देश दिए गए। उन्होंने सभी एम0ओ0आई0सी0 से कहा कि अगले तीन-चार दिनों में कम प्रतिशत वाले गांवो में टीमों की संख्या बढ़ाकर तेजी लाने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिए कि टीमें डोर टू डोर सर्वे करें यदि कोई लक्षण दिखता है तो उनका सैंपल ले यदि टीमें ठीक ढंग से कार्य नहीं कर रही है तो उनका उस दिन का मानदेय रोक दें। जिलाधिकारी द्वारा सर्विलांस टीम को सही डाटा समय से उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।
उक्त अवसर मुख्य विकास अधिकारी राम सिंह वर्मा, अपर जिलाधिकारी भानु प्रताप सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी, सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Mau Tv