एक “प्रतिनिधि” ऐसा भी जो सदन में नहीं सड़क पर जीता है “आजाद”

मुहब्बत जिन्दा है…

@ आनन्द कुमार मऊ से…

कुछ जनप्रतिनिधि होते हैं जो जनता को तरह-तरह का सपना दिखाकर उनका प्रतिनिधित्व करते हैं। जन-जन के आशीर्वाद से सदन में बैठने का मौका पाते हैं। सदन से लेकर सड़क तक के हर दर्द को अपना दर्द बताते हैं। लेकिन क्या वे जनप्रतिनिधि वास्तव में वैसे होते हैं। गोरखपुर जनपद में एक ऐसा शख्स भी है जिसे जन-जन ने तो नहीं चुना नहीं, वे जनता का चुना जनप्रतिनिधि भी नहीं है, जो सदन में बैठ सके, लेकिन हां वह जन-जन के आशीर्वाद से ऐसा प्रतिनिधि बन गया जो सबके मन में बैठता है। वे खुद ही बड़े बेखौफ और ईमानदारी से अपने आपको लिखता है, बीमार, असहाय, बेसहारा लोगों का प्रतिनिधि आज़ाद पाण्डेय”। जी हां गोरखपुर के आजाद पाण्डेय किसी पहचान के मोहताज नहीं हैं। सड़क पर चलते-चलते, दर्द, तड़प, असहाय, परेशान लोगों को ढूढना और उनकी सहायता करना ही जिसकी नियति बन गई हो। जो खुद को उस शर्म से आजाद कर लिया हो जिधर लोग देखना पसंद नहीं करते, चलना पसंद नहीं करते। उधर आजाद दौड़ पड़ते हैं उसके लिए चल पड़ते हैं। ऐसे ही नहीं अब लोग आजाद के इस काम को सैल्यूट करते हैं। असल सामाजिक सरोकारों के प्रति अपने को समर्पित कर चुका आजाद देश का वह होनहार युवा है जिसकी जितनी तारीफ की जाए कम है।

आजाद स्वयं अपने शब्द में लिखते हैं, मुहब्बत कुछ रूठ गई है, सजा का समय चल रहा है। मन बेचैन था तो निकल लिये सड़क की खाक छानने। मिल गए ये बाबा। दर्द, सड़न, घाव, बदबू को लिए कम्बल में सिकुड़े हुए। दर्द की कराह सुनी तो पूछा क्या हुआ, तो कुछ बोले नही। बात बढ़ी तो कम्बल हटाया तो भीतर नग्न अवस्था मे थे बाबा, कारण जांघ में भयंकर घाव व सड़न।
अब तो शुरू हुई लड़ाई, बाबा को गाड़ी पे लादा और अस्पताल की तरफ कूच। टीम पहुँची तो अस्पताल में मौजूद भगवानों ने इनके सड़न को देख मना कर दिया इलाज को। पर जब हम खुद उठा लिए रुई पट्टी तो खलबली मच गई और सूक्ष्मतम सहयोग प्राप्त हुआ और घण्टेभर में बाबा का घाव साफ किया गया व मलहम पट्टी हुई। इलाज के बाद बाबा को रिक्शे से उनके सुरक्षित स्थान पर छोड़ा गया, व इनके भोजन इलाज इत्यादि की जिम्मेदारी ली गई। मुहब्बत रूठती है तो फर्क पड़ता है यार। आजाद लिखते हैं इन्हें हमारी और हमें आपके साथ कि जरूरत है

9454641501

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Mau Tv