अपना जिला

जायसवाल समाज के होली मिलन में कृष्णा ने फोड़ी मटकी, थिरके लोग

मऊ। होली देता है भाईचारा व समरसता का संदेश। भांति-भांति के रंगों से सजा यह त्यौहार एकता, समरसता, आपसी प्रेम सद्भाव का संदेश देता है। जहां अमीर-गरीब, छोटे- बड़े सभी की खाइयां मिट जाती हैं। लोग एक दूसरे से गले मिलते और झूमते नजर आते हैं। ऐसे में इस पवित्र पावन त्यौहार से सीख लेकर हम अपने जीवन को रंगबिरंगा करते हुए समाज के सभी रंगों को एक साथ समाहित करें। जिससे ही समाज का हित संभव है। उपरोक्त बातें जायसवाल समाज होली मिलन समारोह के अवसर पर जिलाध्यक्ष लालबहादुर जायसवाल ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा।
रविवार की शाम नगर के गाजीपुर तिराहा स्थित एक प्लाजा में जायसवाल समाज सेवा समिति द्वारा आयोजित होली मिलन समारोह में को संबोधित करते हुए कैलाश चंद जायसवाल ने कहाकि किसी भी त्यौहार को अपने परिवार के साथ मनाने से उसकी खुशियां दोगुना हो जाती हैं। जबकि अगर व्यक्ति बड़े से बड़े त्यौहार पर भी अकेला रहे तो त्योहार नीरस हो जाता है। समाज के सभी लोगों के साथ त्योहार मनाना सौभाग्य की बात है। इस अवसर पर ब्रज मंडल के कलाकारों द्वारा फूलों की होली, माखन मटकी फोड़ व मयूर नृत्य के साथ ही रासलीला का दर्शन कराया गया। लोग कलाकारों के साथ झूमते व थिरकते नजर आए। वहीं माखन चोर कृष्ण द्वारा माखन मटकी तोड़ते समय समूचे परिसर राधे राधे के जयकारे से गूंज उठा। समारोह में महिलाओं की संख्या काफी अधिक थी। लोग एक दूसरे को गुलाल अबीर के साथ ही फूलों की पंखुड़ियां के माध्यम से होली की बधाई देते नजर आए। देर शाम तक चले इस कार्यक्रम में सभी लोग प्रेम पूर्वक होली मनाते नजर आए।
समाज के चिकित्सक व अन्य लोगों का हुआ सम्मान…
समारोह के दौरान समिति जिलाध्यक्ष लालबहादुर जायसवाल द्वारा डॉ आनंद कुमार जायसवाल, डॉ शालिनी मनीषा, डॉ एके रंजन, प्रवीण कुमार जायसवाल, मुन्ना जी जायसवाल, राधेश्याम जायसवाल, हंसराज प्रसाद जायसवाल, प्रतीक जायसवाल, नीरज जायसवाल, मनोज जायसवाल, ममता जायसवाल, सुनीता जायसवाल, महेंद्र जायसवाल, हरिलाल जायसवाल, शशिदेव जायसवाल, सन्तोष जायसवाल, कन्हैया लाल जायसवाल, हिमांशु जायसवाल इत्यादि को सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर जुगनू जायसवाल, गौरव, रुद्रांश, आशीष, महेंद्र, विक्रांत जयसवाल, राहुल, मनोज, संतोष, मालती, वंदना जायसवाल सहित नगर के विभिन्न मोहल्लों के साथ ही कोपागंज, दोहरीघाट, चिरैयाकोट, मोहम्मदाबाद गोहना से भी समाज के लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home2/apnamaui/public_html/wp-includes/functions.php on line 5373

Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home2/apnamaui/public_html/wp-includes/functions.php on line 5373