पांच राज्य चुनाव भाजपा व मोदी नीतियों पर अविश्वास : अतुल कुमार अनजान

दिल्ली। पांच राज्य तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल, केरल ,आसाम, और 30 सदस्य वाले केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी के चुनाव परिणामों ने यह साबित कर दिया कि मतदाताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आक्रामक प्रचार और अमित शाह द्वारा मनगढ़ंत कहानियां कहने के बावजूद इन राज्यों के मतदाताओं ने भाजपा को नकार दिया। चुनाव परिणाम एक सख्त टिप्पणी देश की जनता की ओर से नरेंद्र मोदी सरकार के कामकाज पर है उक्त प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राष्ट्रीय सचिव अतुल कुमार अनजान ने कहा कि इन चुनावों ने यह भी स्पष्ट कर दिया ग्रामीण जनता भारतीय जनता पार्टी की नीतियों विशेषकर किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ उठ खड़ी हुई है कम्युनिस्ट किसान नेता ने कहां की पांच राज्यों के 822 विधानसभा क्षेत्रों में भाजपा मात्र 142 सीटें ही जीत पाई बड़े राज्यों में तमिल नाडु मैं जयललिता की पार्टी अन्नाद्रमुक के साथ 234 सदस्यों वाली विधानसभा में गठबंधन के बाद भी एक भी सीट नहीं जीत सकी यही हाल केरल में रहा जहां निवर्तमान विधानसभा में 1 सीट थी वह भी खो दी तमाम फिल्मी कलाकारों मशहूर हस्तियों को चुनाव में उतार देने के बाद भी भारतीय जनता पार्टी को मुंह की खानी पड़ी उसके लिए एक संतोष का विषय है आसाम यहां पर भी एनआरसी का मुद्दा जिसे पिछले विधानसभा में बड़ी तेजी से प्रधानमंत्री मोदी ने उठाया था उसका जिक्र न मोदी ने किया और ना उसका नाम गृहमंत्री ने लिया और न भारतीय जनता पार्टी के किसी नेता ने किया पश्चिम बंगाल की पूरी की पूरी भाजपा अपहरण से बनाई गई पार्टी है विभिन्न दलों से लोगों को तमाम तरह के प्रलोभन देकर उम्मीदवार बनाया गया लेकिन 200 के पार की नारा देकर के भी निराशा हाथ लगी कम्युनिस्ट किसान नेता ने आगे कहा कि भाजपा के संसद के 4 सदस्य सदस्यों को त्यागपत्र दे देना चाहिए केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो जिनकी बुरी तरह से पराजय हुई है उन्हें तत्काल मोदी मंत्रिमंडल से हटा देना चाहिए यह लोकतांत्रिक मर्यादा का निर्वहन होगा कम्युनिस्ट किसान नेता अतुल कुमार अनजान ने इन राज्यों के चुनाव परिणामों के बाद गैर भाजपा दलों से अपील की है उत्तर प्रदेश सहित आगामी कई राज्यों के विधानसभा एवं लोकसभा के चुनाव के लिए व्यापक गोलबंदी करें जिसका आधार राष्ट्रीय संपत्ति को बचाना और मोदी की सांप्रदायिक नीतियों को परास्त करना होना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

IPL-2020 UPDATE NEWS

कौन बनेगा IPL-2020 का किंग ?