Lockdown में दूर करिए बोरिंग

अभी मैंने बैठे बैठे सोचा की…

क्यो ना लेटे लेटे सोचा जाए??
😂☺️☺️☺️☺️☺️☺️☺️☺️

पति : जब देखो तब बेकार के खर्चे
करती रहती हो 😠😡

पत्नी : मेरे ही खर्चे तुमको बेकार के
लगते है , तुम्हारे बड़े-बड़े बेकार के
खर्चे है उसका कुछ नहीं… क्यों 🙄😏

पति : ले , मैने कब ऐसे बेकार के खर्चे
करे…?? 😟😳

पत्नी : क्यों , बड़े-बड़े बीमा के प्रीमियम
भरते हो , लेकिन जब मरने का टाइम
आया तब घर में घुस के बैठे हो 😏😏

टीचर – वैलेंटाइन का विलोमार्थी शब्द क्या है?

स्टूडेंट – क्वॉरेंटाइन!

टीचर – वो कैसे?

स्टूडेंट – वैलेंटाइन में दो व्यक्ति चिपक कर बैठते हैं और क्वॉरेंटाइन में दूर – दूर बैठते हैं।

टीचर – मान्यवर! आपके चरण कहां हैं?

🧐😡🧐😟

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Mau Tv