मऊ! जिलाधिकारी ने बोर्ड परीक्षा 2023 की तैयारियों की समीक्षा बैठक में दिए कड़े निर्देश

० जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला अनुश्रवण समिति/निपुण भारत की मासिक समीक्षा बैठक संपन्न

० निपुण भारत के तहत शिक्षा क्षेत्र वार सबसे खराब प्रदर्शन करने वाले 10 अध्यापकों की सूची तैयार कर कार्यवाही करने के दिए निर्देश

मऊ। जिलाधिकारी अरुण कुमार की अध्यक्षता में जिला अनुश्रवण समिति/निपुण भारत एवं बोर्ड परीक्षा 2023 की तैयारियों के संबंध में समीक्षा बैठक संपन्न हुई।
बैठक के दौरान बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बताया कि समस्त खंड शिक्षा अधिकारियों को अपने-अपने विकासखंड के 20 विद्यालयों तथा शिक्षक संकुल/ एस.आर.जी.को अपना विद्यालय तथा ए.आर.पी. को अपने शिक्षा क्षेत्र के 10-10 विद्यालयों को निपुण बनाने हेतु निर्देश दिए गए हैं।
जिलाधिकारी ने विद्यालयों को निपुण बनाने हेतु संबंधित अधिकारियों के अलावा अध्यापकों की भी जिम्मेदारी तय करने के साथ ही प्रत्येक शिक्षा क्षेत्र के सबसे खराब प्रदर्शन करने वाले 10 अध्यापकों की सूची तैयार कर उनके खिलाफ कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए। कायाकल्प योजना के तहत स्कूलों में कराए जाने वाले कार्यों की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने नगरीय क्षेत्रों में स्थित स्कूलों में कायाकल्प के तहत कराए जाने वाले कार्यों हेतु स्टीमेट तैयार कर निविदा प्रक्रिया अपनाते हुए शीघ्र ही कायाकल्प के कार्यों को पूर्ण करने के निर्देश अधिशासी अधिकारियों को दिए। परिषदीय विद्यालयों में साफ सफाई की उचित व्यवस्था ना पाए जाने पर जिलाधिकारी ने जिला पंचायत अधिकारी को गांव में तैनात सफाई कर्मियों से सफाई व्यवस्था को सुनिश्चित करने को कहा। साथ ही लापरवाही पाए जाने पर संबंधित सफाई कर्मियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए। आधार कार्ड विहीन छात्रों एवं डी.बी.टी.की स्थिति की समीक्षा के दौरान लगभग 11% स्कूली बच्चों के अब तक आधार कार्ड नहीं बनने पर जिलाधिकारी ने आवश्यक होने पर कैंप लगाकर सभी नामांकित बच्चों के आधार कार्ड बनवाने के निर्देश बेसिक शिक्षा अधिकारी को दिए। जिलाधिकारी द्वारा विद्यालयों के निरीक्षण के दौरान बच्चों को यूनिफॉर्म, स्वेटर, जूता-मोजा सहित सरकार द्वारा प्रदत अन्य सुविधाओं की उपलब्धता ना होने पर उन्होंने बेसिक शिक्षा अधिकारी को अध्यापकों से इस संबंध में और प्रयास कर अभिभावकों को जागरूक करने को कहा। इसके अलावा जनपद स्तरीय अधिकारियों द्वारा गोद लिए गए 104 विद्यालयों में शिक्षक- अभिभावक बैठक के दौरान अधिकारियों द्वारा अभिभावकों को सरकार द्वारा बच्चों को स्कूलों में दी जा रही सुविधाओं से संतृप्त करने हेतु प्रयास करने के भी निर्देश दिए। जिला अनुश्रवण समिति की बैठक के दौरान ही जिलाधिकारी ने जर्जर विद्यालयों के पुनर्निर्माण की स्थिति,कंपोजिट ग्रांट के उपभोग, परिषदीय विद्यालयों में मूलभूत अवस्थापना सुविधाओं, आउट ऑफ स्कूल बच्चों की पहचान एवं नामांकन की स्थिति, समर्थ ऐप पर दिव्यांग बच्चों के चिन्हांकन एवं नामांकन की स्थिति, कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालयों में नामांकन एवं उपस्थिति, मध्यान्ह भोजन वितरण की स्थिति,निशुल्क पाठ्य पुस्तकों एवं कार्य पुस्तिकाओं के वितरण की स्थिति आदि की भी समीक्षा की।
इसी बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने बोर्ड परीक्षा 2023 की तैयारियों की भी समीक्षा की। बोर्ड परीक्षा 2023 की तैयारियों की समीक्षा के दौरान जिला विद्यालय निरीक्षक ने बताया कि जनपद में कुल 138 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं, जिन पर हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट के कुल 92181 बच्चे परीक्षा में सम्मिलित होंगे।उन्होंने बताया कि सभी परीक्षा केंद्रों की जांच कर ली गई है। सभी केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरा तथा डी.वी.आर.की सक्रियता का भी सत्यापन कर लिया गया है। जिला विद्यालय निरीक्षक ने बताया कि जनपद स्तर पर कंट्रोल रूम की भी स्थापना की गई है जो सीधे केंद्रों के साथ ही साथ मुख्यालय से भी जुड़े रहेंगे।उन्होंने बताया कि बोर्ड के निर्देशानुसार इस बार प्रश्न पत्र सुरक्षित रखने हेतु प्रधानाचार्य कक्ष से अलग स्ट्रांग रूम बनाए जाने का निर्देश प्राप्त हुआ है। समस्त 138 परीक्षा केंद्रों पर पृथक से स्ट्रांग रूम भी स्थापित किए जा चुके हैं। शासन से प्राप्त निर्देशानुसार स्टैटिक मजिस्ट्रेट, सेक्टर मजिस्ट्रेट एवं जोनल मजिस्ट्रेट नियुक्त करने की कार्रवाई परीक्षा प्रारंभ होने से पूर्व कर ली जाएगी। जिलाधिकारी ने बोर्ड परीक्षा हेतु शासन से प्राप्त निर्देशों के अनुसार कार्य करने को कहा। साथ ही परीक्षा केंद्रों के लिए निर्धारित मानकों का अनुपालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने समय रहते सचल दल,स्टैटिक,सेक्टर एवं जोनल मजिस्ट्रेट के तैनाती की कार्यवाही पूर्ण करने के भी निर्देश दिए। इसके अलावा परीक्षा केंद्रों पर पुलिस बल, प्रश्न पत्रों की सुरक्षा, परीक्षा केंद्रों तक प्रश्न पत्रों को पहुंचाने हेतु आवश्यक पुलिस बल हेतु पुलिस अधीक्षक से मिलकर समय रहते पुलिस बल की तैनाती की व्यवस्था भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने जिला विद्यालय निरीक्षक को बोर्ड परीक्षा को पारदर्शी एवं शुचिता पूर्ण ढंग से पूरी कराने हेतु समस्त आवश्यक व्यवस्थाएं समय रहते सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।
बैठक के दौरान सिटी मजिस्ट्रेट नीतीश कुमार सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी संतोष कुमार सिंह, समस्त खंड शिक्षा अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी अभिषेक शुक्ला, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद दिनेश कुमार सहित अन्य सभी संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.