चर्चा में

सुधार गृह की दूसरी मंजिल से कूदी युवती, वार्डन पति पर मारपीट का आरोप

(नीरज)

पीलीभीत 15 सितम्बर | यहाँ महिला सुधार गृह की छत से कूदकर एक युवती ने ख़ुदकुशी की कोशिश की है। बताया जा रहा है कि 13/14 सितम्बर की रात 4 युवकों ने सुधार गृह का दरबाजा खुलबाने की कोशिश की थी। सुधार गृह के वार्डन और उसके पति के लौटने के बाद युवती ने मामले की शिकायत की तो उसे ही अपमानित कर उसकी पिटाई की गई। जिसके बाद युवती ने सुधारगृह के दूसरी मंजिल से छलांग लगा दी। जिसमें वह घायल हो गई। घंटो बाद उसे जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया। लेकिन पुलिस को मामले की सूचना 181 प्रभारी से लेकर किसी ने भी नहीं दी। युवती ने जिला अस्पताल में भर्ती होते ही मीडिया को अपनी बात बताई। जिसके बाद पुलिस ने जाँच शुरू की है। युवती ने आश्रय गृह की बार्डन के पति पर भी मारपीट का आरोप लगाया है। युवती को 8 अगस्त को आशा ज्योति केंद्र के कर्मियों ने उसके ही घर से रेस्क्यू किया था। जिसके बाद से वह महिला आश्रय गृह में रह रही थी। यह आश्रय गृह प्रोबेशन विभाग द्वारा संचालित है। शहर कोतवाली क्षेत्र के अलीगंज गाँव की रहने वाली लक्ष्मी (काल्पनिक नाम) किसी युवक से प्रेम करती थी। जिसको लेकर उसके परिजन अक्सर मारपीट करते थे, जिसकी वजह से युवती ने 181 पर कॉल कर अपनी समस्या बताई। जिसके बाद आशा ज्योति केंद्र के कर्मचारियों ने उसका रेस्क्यू किया व उसे प्रोबेशन विभाग से संचालित ग्राम गौहनिया स्थित महिला सुधारगृह में रख दिया। आरोप है कि जहाँ उसके साथ बार्डन का पति अक्सर मारपीट करता रहा। 13/14 सितम्बर की देर रात तक सुधार गृह की बार्डन अपने परिवार के साथ कहीं गईं थी। युवती के अनुसार इस बीच 4-5 युवकों ने सुधार गृह का दरवाजा पीट-पीट कर खुलवाना चाहा । जिससे वह काफी डर गई । इस मामले की शिकायत की बार्डन वन्दना के देर रात बापस लौटने पर युवती ने की । लेकिन बार्डन ने उसकी एक नहीं मानी बल्कि युवती के चरित्र पर लांछन लगाते हुए उसे ही ताने मारे व विरोध करने पर बार्डन वन्दना के पति ने युवती की पिटाई कर दी । जिससे तंग युवती ने सुधारगृह की दूसरी मंजिल से कूदकर आत्महत्या का प्रयास किया। जिसमें वह गम्भीर रूप से घायल हो गई। युवती ने बार्डन के पति पर भी अक्सर मारपीट करने का आरोप भी लगाया है। पूरे मामले की जानकारी पुलिस को न तो सुधारगृह की बार्डन ने दी न ही आशा ज्योति केंद्र के कर्मियो ने दी। छत से कूदने से घायल युवती का एक पैर गंभीर रूप से घायल हो गया है। घायल युवती घंटों बाद जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। अपर पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर सी.ओ. सिटी धर्म सिंह मार्छाल व महिला थाना अध्यक्ष अनुपमा सिंह जाँच को पहुंची । सुधार गृह की एक काउंसलर से पुलिस अधिकारों ने पुलिस को घटना की सूचना न देने का कारण पूछा तो वह बगलें झाँकने लगी । उसने पुलिस को बताया गया कि 08 अगस्त से अब तक सिर्फ दो बार युवती को माता-पिता से मिलवाकर काउंसलर की गई है । सी.ओ. धर्म सिंह मार्छाल ने बताया कि युवती के आरोपों की गहराई से जांच की जाएगी और सुधार गृह पर महिला पुलिस कर्मियों की टीम तैनात कर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home2/apnamaui/public_html/wp-includes/functions.php on line 5373

Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home2/apnamaui/public_html/wp-includes/functions.php on line 5373