मऊ में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला पोषण/कन्वर्जेंस समिति की मासिक समीक्षा बैठक संपन्न

० विकासखंड रानीपुर के अति कुपोषित बच्चों का गृह भ्रमण न करने पर सी.डी.पी.ओ. से मांगा स्पष्टीकरण

मऊ। जिलाधिकारी अरुण कुमार की अध्यक्षता में जिला पोषण समिति/कन्वर्जेंस समिति की मासिक समीक्षा बैठक संपन्न हुई। बैठक के दौरान जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया जनपद में कुल 2587 आंगनवाड़ी केंद्र है जिन पर 258 कार्यकत्री एवं 538 सहायिकाओं के पद रिक्त है।आंगनबाड़ी केंद्रों पर आधारभूत सुविधा की चर्चा के दौरान डी.पी.ओ. ने बताया कि जनपद के 373 आंगनवाड़ी केंद्रों में पेयजल एवं 520 केंद्रों पर शौचालय की उपलब्धता नहीं है। जिलाधिकारी ने अधिशासी अभियंता जल निगम को पेयजल योजना के तहत सभी केंद्रों पर पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। साथ ही जिन केंद्रों पर शौचालय की उपलब्धता नहीं है वहां पर जिला पंचायत राज अधिकारी को इसकी व्यवस्था यथाशीघ्र सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने जिला कार्यक्रम अधिकारी को समस्त आंगनबाड़ी केंद्रों पर आवश्यक मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने को भी कहा। वाह्य विद्युतीकरण में विभागीय बजट कम पड़ने पर उन्होंने जिला पंचायत राज अधिकारी को ग्राम पंचायत निधि से इसकी व्यवस्था करने को कहा। आंगनवाड़ी केंद्रों पर अध्ययनरत बच्चों को फोर्टीफाइड चावल वितरण की धीमी प्रगति पर उन्होंने इसमें तेजी लाने के निर्देश जिला कार्यक्रम अधिकारी को दिए। बैठक के दौरान जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि माह नवंबर में 626 अति कुपोषित बच्चों के सापेक्ष माह दिसंबर में इसमें गिरावट आई है, जिनकी संख्या 520 है। विकासखंड रानीपुर में अति कुपोषित 47 बच्चों के सापेक्ष मात्र 12 बच्चों के गृह भ्रमण पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए सीडीपीओ को स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। एन.आर.सी. में भर्ती हेतु दिसंबर माह में संदर्भित 42 बच्चों के सापेक्ष मात्र 7 भर्ती तथा जनवरी माह में अब तक संदर्भित 15 बच्चों के सापेक्ष मात्र 4 बच्चे भर्ती होने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए उपलब्ध बेड के अनुसार अति कुपोषित बच्चों को एन.आर.सी. में भर्ती कराने के निर्देश दिए। पोषण ट्रैकर एप पर लाभार्थियों की आधार फिडिंग, राशन वितरण की फीडिंग एवं वजन की स्थिति की फिडिंग आदि में मोहम्मदाबाद गोहना की धीमी प्रगति पाए जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी ने सीडीपीओ मोहम्मदाबाद गोहना को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी। बैठक के दौरान ही जिलाधिकारी ने आंगनवाड़ी केंद्रों के भवन निर्माण की प्रगति, जनप्रतिनिधि एवं जनपद स्तरीय अधिकारियों द्वारा गोद लिए गए आंगनवाड़ी केंद्रों की स्थिति, ब्लॉक स्तरीय कन्वर्जेंस समिति की बैठक आदि की भी समीक्षा की।
बैठक के दौरान जिला कार्यक्रम अधिकारी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला परियोजना अधिकारी सहित जिला पोषण समिति के समस्त सदस्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.