त्रिदेवधाम मऊ स्थापना महोत्सव का हुआ शुभारंभ बसंत पंचमी को होगी भव्य प्राण-प्रतिष्ठा

मऊ। श्री बाबा देहलूदास मन्दिर सेवा समिति, ढेकुलियाघाट के तत्वाधान में ‘त्रिदेवधाम’ में कलयुग अधिष्ठात्री देव -हारे के सहारे श्री श्याम बाबा, आदिशक्ति श्री राणीसती दादी माँ एंव श्री सालासर बालाजी के विग्रह की भव्य प्राण-प्रतिष्ठा दिनांक 26 जनवरी 2023 को होनी है, इस भव्य व अतुल्य समारोह के प्रथम दिवस रविवार को श्री गणेश पूजा, 111 कलश में महिलाओं द्वारा विभिन्न तीर्थों के जल संगम पूजा, मंदिर परिक्रमा के साथ सायंकालीन भजन व भण्डारा के साथ शुभारंभ हुई। सभी धर्म-प्रेमियों में बहुत ही उत्साह व खुशी की लहर देखने को मिली। इसी क्रम में दिनांक 23 एवं 24 जनवरी 2023 को विभिन्न अभिषेक सुबह-शाम चलेंगे तथा बुधवार दिनांक 25.01.2023 को प्रातः 08 बजे, मन्दिर परिसर से भव्य कलश यात्रा का आयोजन है जिसमें महिलाओं द्वारा 111 कलश, कुछ भक्तों द्वारा माथे पर स्कंद पुराण के साथ कई भक्त ध्वजा निशान के साथ भव्य शोभा यात्रा त्रिदेवधाम से आजमगढ़ मोड़ तिराहे होते हुए वापस त्रिदेवधाम तक, त्रिदेवों के विग्रह के साथ भ्रमण होगी। समारोह दिनांक 26.01.2023 को विग्रहों की भव्य प्राण-प्रतिष्ठा प्रातः08 बजे से व शाम को किर्तन व भण्डारा के साथ पूर्ण होगी।

मन्दिर समिति द्वारा बताया गया कि कलियुग के इन अधिष्ठात्री देवी -देवताओ के मन्दिर सिर्फ वर्तमान में राजस्थान ही नहीं अपितु देश-विदेश के हर छोटे-बड़े गाॅव-शहर में हो रहे हैं । ऐसे परिक्रम में यह हम मऊ जनपद वासियों का परम सौभाग्य है कि कलियुग के इन आराध्य देवों के नित्य दर्शन अब हमें अपने जनपद में भी पाने का सौभाग्य होगा। साथ ही समस्त भक्तगणों से अनुरोध किया गया है कि अधिक से अधिक संख्या में अपने इष्ट, मित्रों के साथ आये और इस पावन ऐतिहासिक बेला के साक्षी बन त्रिदेव का आर्शिवाद प्राप्त करें।

त्रिदेवधाम मऊ स्थापना महोत्सव के दूसरे दिन हुआ त्रिदेवो का भव्य जलाभिषेक व अन्नाधिवास…

मऊः श्री बाबा देहलूदास मन्दिर सेवा समिति, ढेकुलियाघाट के तत्वाधान में ‘त्रिदेवधाम’ स्थापना बनारस से आए प्रकांड विद्वान श्री प्रमोद पांडेय जी महाराज के नेतृत्व में स्थापना दिवस के क्रम में आज द्वितीय दिवस को प्रात: काल जलाधिवास जिसमें विभिन्न तीर्थों के जल के साथ श्री श्याम बाबा, श्री राणीसती दादी माँ एंव श्री सालासर बालाजी के विग्रह की जल से अभिषेक पूजा की गई सांयकाल अन्नाधिवास में अन्न गेहूं और चावल से भव्य अभिषेक हुआ। बहुत से भक्तों द्वारा अपने घर से अन्नाधिवास में गेहूं और चावल भी लाया गया, तैयारी के क्रम में बहुत सारे भक्त पूरे जोरों शोरो से तैयारी में लगे रहे।
भव्य प्राण-प्रतिष्ठा दिनांक 26 जनवरी 2023 को होनी है। कल दिनांक 24 जनवरी 2023 को प्रातः पुष्पाधिवास में फूलों से और सांयकाल फलाधिवास में फलों से अभिषेक किए जाएंगे तथा बुधवार दिनांक 25.01.2023 को प्रातः 08 बजे, मन्दिर परिसर से भव्य कलश यात्रा का आयोजन है जिसमें महिलाओं द्वारा 111 कलश, लगभग 21भक्तों द्वारा माथे पर स्कंद पुराण के साथ लगभग 61 भक्तो द्वारा ध्वजा निशान के साथ भव्य शोभा यात्रा त्रिदेवधाम से आजमगढ़ मोड़ तिराहे होते हुए वापस त्रिदेवधाम तक, त्रिदेवों के विग्रह के साथ भ्रमण होगी। समारोह दिनांक 26.01.2023 को विग्रहों की भव्य प्राण-प्रतिष्ठा प्रातः08 बजे से व शाम को किर्तन व भण्डारा के साथ पूर्ण होगी।

मन्दिर समिति द्वारा बताया गया कि कलियुग के इन अधिष्ठात्री देवी -देवताओ के मन्दिर सिर्फ वर्तमान में राजस्थान ही नहीं अपितु देश-विदेश के हर छोटे-बड़े गाॅव-शहर में हो रहे हैं । ऐसे परिक्रम में यह हम मऊ जनपद वासियों का परम सौभाग्य है कि कलियुग के इन आराध्य देवों के नित्य दर्शन अब हमें अपने जनपद में भी पाने का सौभाग्य होगा। साथ ही समस्त भक्तगणों से अनुरोध किया गया है कि अधिक से अधिक संख्या में अपने इष्ट, मित्रों के साथ आये और इस पावन ऐतिहासिक बेला के साक्षी बन त्रिदेव का आर्शिवाद प्राप्त करें।
—-

Leave a Reply

Your email address will not be published.