अपना जिला

◆ शारदा नारायन वेलफेयर ट्रस्ट एवं रोटरी क्लब के संयुक्त तत्वावधान में संगोष्ठी

“अपना-मऊ”

मऊ। शारदा नारायन वेलफेयर ट्रस्ट एवं रोटरी क्लब के संयुक्त तत्वावधान में शारदा नारायन हास्पिटल के सभागार में एक स्वास्थ्य जागरूकता कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि डा. सतीश कुमार द्वारा दीप प्रज्वलित करके किया गया। इस अवसर पर श्री कुमार ने बोलते हुए कहा कि डेंगू व स्वाइन फ्लू एक भयावह बिमारी है जिस के लिए मऊ के चिकित्सा प्रशासन कार्यरत है। उन्होनें कहा कि ऐसे जागरूकता कार्यक्रम के लिए मऊ चिकित्सा प्रशासन अपना पुरा सहयोग देगा तथा इस कार्यक्रम के लिए उन्होनें डा0 संजय सिंह और रोटरी क्लब मऊ की भूरी भूरी प्रशंसा किये।डा0 संजय सिंह ने प्रोजेक्टर के माध्यम से डेगूं व स्वाइन फलू के बारे में कहा कि इन दिनों डेगूं व स्वाइन फलू के मामलो में काफि वृद्वि हुई है यह एक खास किस्म के वायरस से व सक्रंमित मच्छर के काटने से ये तेजी से फैलता है डेंगू के मच्छर दिन और रात दोनो वक्त काटते है। स्वाइन फलू श्वसन तंत्र से जुडीं बीमारी है ,जो ए टाइप के इनफलुएंजा वायरस से होता है, यह वायरस एच1 एच1 के नाम से जाना जाता है और मौसमी फ्लू में भी यह वायरस सक्रिय होता है। स्वाइन फ्लू के बारे में बताते हुए डा0 संजय सिंह नें बताया कि स्वाइन फ्लू के लक्षणो एवं इससे बचाव और उपचार के बारे में जानकारी होना बहुत जरूरी है जिससे आप खुद को एवं अपने परिवार को इस सक्रमण से दुर रख सके।
डेंगू व स्वाइन फ्लू के लक्षण के बारे में बोलते हुए डा0 संजय सिंह नें बताया कि स्वाइन फ्लू के शुरूआती लक्षणो में रोगी को तेज बुखार होता है , नाक का लगातार बहना,छींक आना, नाक जाम होना, मांसपेशियों में दर्द, अकडन महसूस होना,सिर में भयानक दर्द,लगातार खांसी आना,दवा खाने के बाद भी लगातार बुखार का बढना,गले में खराश होना और लगातार बढते जाना यह स्वाइन फलू के लक्षण हैं। डेंगु के शुरूआती लक्षणो में रोगी को तेज ठंड लगती है, सिर दर्द ,कमर दर्द और आखो में तेज हो सकता है इसके साथ ही उसे लागातार तेज बुखार रहता है। इसके आलावा जोड़ो मे दर्द ,बेचैनी उल्टीया, लो ब्लड प्रेशर जैसे रोग हो सकते है।
आगे डेंगू व स्वाइन फ्लू के बचाव के उपाय के बारे में बोलते डा0 संजय सिंह नें बताया कि स्वाइन फ्लू से बचाव व सजगता और भी जरूरी है स्वाइन फ्लू वायरस द्वारा संक्रमित होता है इस लिए सबसे अधिक साफ सफाई बहुत जरूरी है क्योकि गंदगी में स्वाइन फ्लू के वायरस की आशंका बढ़ जाती है। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थलों पर छीकते खांसते समय मुंह पर रूमाल जरूर रखें।इसके अलावा दूसरों को भी खांसने छींकने के दौरान एैसा करने के लिए प्रेरित करें। साथ ही सर्दी जुकाम से पीडित या संभावित लक्षणों वाले लोगों को सार्वजनिक या भीड. वाले स्थान पर जाने से पहले नाक व मुॅह जरूर ढक लें। डेंगू का वायरस मच्छरो द्वारा संक्रमित होता है इस लिए सबसे अधिक जरूरी है कि मच्छरों को घर में बिल्कुल न होने दें। साफ सफाई बहुत जरूरी है क्योकि गंदगी में डेंगू के मच्छरो की आशंका बढ़ जाती है । बाल्टियों व ड्रम में जमा पानी को हमेशा ढक कर रखें और आस पास के गड्ढे आदि में पानी न जमा होने दें।बच्चो को पुरे आस्तीन के कपडें पहनाए, सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करें, घर के आस पास मच्छर भगाने वाली दवा का छिडकाव करें।
अन्त में डा0 संजय सिंह ,रोटरी क्लब के अध्यक्ष शमीम अहमद,रोटरी क्लब के सचिव डा0 असगर अली नें मुख्य अतिथि मुख्य चिकित्साधिकारी श्री डा0 सतीश कुमार सिंह को मोमेन्टो एवं बूके देकर सम्मानित किये। इस अवसर पर डा0 सुजीत सिंह ,पूर्व रोटरी क्लब के अध्यक्ष श्री सुशील अग्रवाल,पूर्व रोटरी क्लब के सचीव अजीत सिंह,पूर्व नगर पालिका चेयरमैन अरशद जमाल व तय्यब पालकी, डा0 एस0एन0 खत्री, डा0 राहुल कुमार, डा0 नासिर अली,डा0 आर0 एन0 सिह, डा0 अजय सिंह, प्रदीप सिंह एवं रोटरी क्लब मऊ के सदस्य गण, शिवकुमार सिंह,मनीष शर्मा, विपिन सिंह आदि लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home2/apnamaui/public_html/wp-includes/functions.php on line 5420

Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (1) in /home2/apnamaui/public_html/wp-includes/functions.php on line 5420